About Training

1. केंद्र में सम्बंधित जिले के शासकीय अधिकारीयों / कर्मचारियों को प्रशिक्षण प्रदाय किया जा रहा है |
2. वर्तमान में निम्न विषयों पर प्रशिक्षण संचालित है –

  • बेसिक कंप्यूटर कोर्स
  • यूनिकोड
  • डिजिटल सिग्नेचर
  • एम-एस ऑफिस
  • इंटरनेट तथा ई-मेल

3. आवश्यकतानुसार एक से अधिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों को सम्बद्ध भी किया जा सकता है; अर्थात दो प्रशिक्षण कार्यक्रम      (उदाहरण के लिए बेसिक कंप्यूटर प्रशिक्षण एवं यूनिकोड) एक साथ भी दिए जा सकते हैं |
4. केन्द्रों पर  जिला-स्तर / राज्य स्तर की आवश्यकतानुसार अन्य प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है |
5. प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु जिले के इच्छुक अधिकारी / कर्मचारी, सीधे वेब-साईट पर अपना पंजीयन भी कर सकते हैं | ऐसी स्थिति में सम्बंधित कार्यालय से सहमति प्राप्त होने पर वे सम्बंधित केन्द्रों पर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे |
6. केन्द्रीकृत प्रशिक्षण – राज्य स्तर पर आयोजित केन्द्रीकृत प्रशिक्षण का इन केन्द्रों पर, वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से    संचालित किये जाने का भी प्रावधान है |
7. विभिन्न विभागों / कार्यालयों की आवश्यकता के अनुसार प्रशिक्षण दिये जाने का भी प्रावधान है |

प्रशिक्षण प्रक्रिया

प्रशिक्षण कैसे प्राप्त किया जा सकता है ?

1. पूछताछ – वेब साईट के होम पेज पर सम्बंधित प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी के लिए दो विकल्प उपलब्ध हैं |

  • व्यक्तिगत पूछताछ – यदि कोई अधिकारी / कर्मचारी स्वयं कोई प्रशिक्षण लेना चाहता है,तो वेब साईट पर व्यक्तिगत पूछताछ की प्रक्रिया कर सकता है |
  • विभागीय पूछताछ – कोई विभाग यदि अपने अधिकारी / कर्मचारियों को प्रशिक्षण करवाना चाहता है तो इस विकल्प के द्वारा उन सभी को नामांकित कर सकता है|

2. पंजीयन – विभाग / कर्मचारी, प्रशिक्षण में स्वयं अपना पंजीयन ऑनलाइन कर सकते हैं, अथवा सम्बंधित केंद्र से संपर्क स्थापित कर अपना पंजीयन ऑनलाइन करा सकते हैं |
3. प्रशिक्षण – पंजीयन उपरांत केंद्र की क्षमता, उपलब्धता और विभागों द्वारा नामांकित उम्मीदवारों की संख्या के आधार पर जिले के क्षेत्रीय क्षमता संवर्धन केन्द्र द्वारा प्रशिक्षण सूची जारी कर, संबन्धित विभागों को प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया जाता है एवं प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है |
4. फीड-बैक – प्रशिक्षण सम्पन्न होने पर प्रतिभागियों द्वारा समूचे बिन्दुओं पर फीड-बैक दिया जाता है | ऑनलाइन फीड बैक द्वारा प्रतिभागियों से, प्रशिक्षकों के ज्ञान, उनके द्वारा दी गई ट्रेनिंग के तरीके, उनके व्यव्हार, उन्हें केंद्र में दी गई सुविधाओं एवं प्रदान की गई प्रशिक्षण सामग्री के सम्बन्ध में सुझाव प्राप्त किये जाते हैं | प्राप्त फीडबैक के आधार पर आवश्यकतानुसार सुधारात्मक कदम उठाये जाते हैं |
5. मूल्यांकन – प्रशिक्षण के पश्चात, आकलन के लिए ऑनलाइन मूल्यांकन की व्यवस्था के तहत, उनके द्वारा प्राप्त किये गए ज्ञान और प्रवीणता का आकलन केंद्र द्वारा प्रारंभ किया जा रहा है |
6. प्रमाण पत्र – सफल प्रश‍िक्षणार्थ‍ियों को प्रमाण पत्र प्रदान किये जाते हैं |

Accept previously mentioned service get turned here in order to acquire didactic relief out of operative teachers.